browser icon
You are using an insecure version of your web browser. Please update your browser!
Using an outdated browser makes your computer unsafe. For a safer, faster, more enjoyable user experience, please update your browser today or try a newer browser.

Hindi Poems

Intermediate Hindi 203 poems

सात्विका  हम ऐसे क्यों बन गए फ़ोन आने के बाद सभी उदास हैं  दुनिया में पेड़ कम, पानी गन्दा  लेकिन फिर भी  धूप चमक रही है  अभी भी दुनिया में सब लोग  दोस्त बन सकते हैं एक दूसरे का साथ है सब लोग अच्छे हैं , हम दुनिया बदल सकते हैं, क्योंकि सब लोग अच्छे … Continue reading »

Categories: Hindi Poems | Leave a comment

Hindi poems

माध्यमिक हिंदी के विद्यार्थी  डयूक विश्वविद्यालय  नॉर्थ कैरोलाइना    Spandan Goel (स्पन्दन गोयल) भारत मेरी नज़र में बड़ा परिवार है घर में रोटी सब्ज़ी बनाना नाना नानी के साथ मॉल जाना और नए लहंगे की खरीदारी करना भाई बहनों के साथ बॉलीवुड की फ़िल्में देखना और बाहर से पानी पूरी और आलू टिक्की लाना दिवाली … Continue reading »

Categories: Hindi Poems | Leave a comment

Haiku by Duke students

  Duke students’ Haiku was published in the Hindi magazine “Ananya” on July 22 by the Consulate General of India, New York, USA.    https://www.indiainnewyork.gov.in/extra?id=bmlwZTF5blpxSFYxSzR2QndrRXZSZz09     https://heyzine.com/flip-book/f9d933893d.html#page/19

Categories: Hindi Poems | Leave a comment

हाइकु

https://heyzine.com/flip-book/f9d933893d.html#page/19     पेड़ भव्य हैं तालाब में दिखता इंद्रधनुष   The tree is grand You can see them in the pond Rainbow   संजीत बेरीवाल Sanjit Beriwal  डयूक विश्वविद्यालय  हिंदी प्रथम वर्ष  —————————   पर्वत पास   गगन दूर नहीं ऊपर क्या है ?     The mountain is near The sky is not far … Continue reading »

Categories: Hindi Poems | Leave a comment

हिंदी कविताएँ

  https://asianmideast.duke.edu/news/poetry-jagdish-vyom-taking-hindi-textbook-real-life   डयूक विश्वविद्यालय  माध्यमिक हिंदी  कविताएँ     कुछ नहीं  एक बच्चा सूरज से खेल रहा है  उसकी माँ भी उसके साथ खेल रही है उसका पति उन्हें खेलते देख रहा है लापरवाही, चिंता मुक्त सा  दिन कितना सुंदर है आसमान में एक भी बादल नहीं है जैसे इस परिवार की तरह धरती … Continue reading »

Categories: Hindi Poems | Leave a comment

पिप्पा कविता

Categories: Hindi Poems, Uncategorized | Leave a comment

Poem RJ

Categories: Hindi Poems | Leave a comment

हिंदी कविताएँ

    प्रथमेश  दुनिया बदलें आँख से आँख  दिल से दिल  दिमाग़ से दिमाग़  दो मन का मिलन सपने एक विचार पैदा करते हैं  सबसे बड़ा अविष्कार विनिमय से पैदा हुआ  पूरे इतिहास में वात्सन और क्रिक  पेज और ब्रीन  जे-ज़ी  और बीयान्से  टीम वर्क से समाज की समस्याओं का समाधान दुनिया की समस्याओं को … Continue reading »

Categories: Hindi Poems | Leave a comment

Poem

हिंदी कविताएँ आरुषि    मेरा दिल कहाँ गया? क्या अब वह उन चिड़ियों के साथ है? जो पेड़ों के ऊपर गाते हैं? क्या यह उन तितलियों के साथ है,  जो फूलों के पास उड़ते हैं? क्या यह उन गुलाब के साथ है,  जो हवा में नाचते हैं? जब वसंत आता है,  तब दुनिया के सबसे … Continue reading »

Categories: Hindi Poems | Tags: , , , , , | 2 Comments